News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़राजनीति

छत्तीसगढ़ चुनाव को लेकर सीएम भूपेश बघेल का चौंकाने वाला जवाब ,जानिए कौन होगा कांग्रेस का चेहरा?

रायपुर. कांग्रेस शासित छत्‍तीसगढ़ में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसे देखते हुए प्रदेश में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई हैं. इस बीच, छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ी बात कही है. ‘ ‘छत्‍तीसगढ़ ओपन माइक’ कार्यक्रम में जब उनसे पूछा गया कि चुनाव के दौरान प्रदेश में कांग्रेस चेहरा कौन होगा? इस सवाल के जवाब में उन्‍होंने कहा कि विधानसभा चुनाव तो मुख्‍यमंत्री के चेहरे पर ही लड़ा जाता है. बता दें कि इस वर्ष के अंत में छत्‍तीसगढ़ के साथ ही मध्‍य प्रदेश और राजस्‍थान में विधानसभा चुनाव होने हैं. छत्‍तीसगढ़ और राजस्‍थान में कांग्रेस की सरकार है.

एक खास कार्यक्रम ‘छत्‍तीसगढ़ ओपन माइक’ प्रोग्राम में छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने कई सवालों के जवाब दिए. छत्तीसगढ़ में इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव के संदर्भ में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘राजस्थान में सबको पता है कि चेहरा कौन है. अमूमन यही होता है कि जो मुख्यमंत्री होता है, वही चेहरा होता है. लेकिन, इसकी घोषणा हाईकमान ही करता है.’ लगे हाथ उन्‍होंने यह भी कहा कि मध्य प्रदेश में ऐसा होता है या नहीं, शिवराज चेहरा होंगे या नहीं, यह देखने वाली बात होगी. बता दें कि विधानसभा चुनावों को देखते हुए छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के कई इलाकों के दौरे किए हैं. उन्‍होंने जनता से सीधे संवाद करने की कोशिश शुरू कर दी है.

कांग्रेस के सबसे लोकप्रिय नेता?
छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री सीएम बघेल से पूछा गया कि क्‍या वह कांग्रेस के सबसे लोकप्रिय नेता हैं? सीएम बघेल ने इस सवाल का जवाब देते हुए कांग्रेस के दो नेताओं का नाम लिया. उन्‍होंने कहा कि उनसे भी ज्‍यादा लोकप्रिय राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ओर सिद्धारमैया हैं. उन्‍होंने क‍हा कि वह तीसरी बार मुख्‍यमंत्री बने हैं. हालांकि, उन्‍होंने साथ ही यह भी कहा कि यह निर्णय मैं जनता पर छोड़ता हूं. उन्‍होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि प्रदेश में मुख्‍यमंत्री का चेहरा कांग्रेस हाईकमान तय करता है.

Advertisement

क्‍या भूपेश बघेल का परिवार राजनीति में आएगा?
भारतीय राजनीति में वंशवाद का मसला अक्‍सर उठता रहता है. भूपेश बघेल से जब इस मसले पर पूछा गया तो उन्‍होंने दो टूक जवाब दिया. दरअसल, उनसे पूछा गया कि क्‍या उनका परिवार भी राजनीति में आएगा. इस सवाल के जवाब में उन्‍होंने कहा कि उन्‍होंने अपने बेटे को पढ़ाने के साथ ही खेतीबारी का काम भी सिखा दिया है. अब वे जानें कि उन्‍हें क्‍या करना है.

Advertisement

Related posts

बिहार के छपरा के बाद अब सीवान में भी जहरीली शराब से हुई 5 लोगों की मौत

News Times 7

मोबाईल बनाने वाली कंपनी बनाऐगी इलेक्ट्रीक कार ,एक बार चार्ज पर चलेगी 1000 हजार कि मी

News Times 7

उद्धव सेना ने किया राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का समर्थन, कहा- BJP को लगने लगा है डर

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़