News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

प्रभु श्रीराम लला को 1.22 करोड़ का इनकम टैक्स का नोटिस, जानें पूरा मामला

निवाड़ी. आयकर विभाग ने श्री राम को नोटिस थमाया है. विभाग ने ओरछा के विश्व प्रसिद्ध श्रीराम राजा मंदिर प्रबंधन को नोटिस देकर पूछा है कि उसके खाते में 1.22 करोड़ रुपये कहां से आए. इस पर मंदिर प्रबंधन ने जवाब भी दिया, लेकिन आयकर विभाग उससे संतुष्ट नहीं हुआ. इसके बाद आयकर विभाग ने मंदिर के स्वामित्व पर सवाल खड़ा कर दिया. इस पर मंदिर प्रबंधन ने विभाग को बताया कि इसका स्वामित्व सरकार के ही पास है. इस जवाब के बाद विभाग ने मंदिर प्रबंधन को फिलहाल कोई नोटिस नहीं दिया है. निवाड़ी तहसीलदार खुद इस मामले को देख रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक, 1.22 करोड़ रुपये का यह मामला साल 2015-16 का है. आयकर विभाग ने इतनी बड़ी रकम जमा होने के बाद 23 मार्च को श्रीराम राजा मंदिर को नोटिस दिया. आयकर विभाग ने मंदिर की बैलेंस शीट, ऑडिट रिपोर्ट, पीएंडएल खाता, आय-व्यय का ब्योरा और अन्य खातों की जानकारी मांगी. इसके जवाब में प्रशासन ने आयकर विभाग को मंदिर के शासकीय होने की जानकारी दी. प्रबंधन ने विभाग को बताया कि वह आयकर श्रेणी से बाहर है. इस पर आयकर विभाग मंदिर प्रबंधन के जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ. वह हर बात के पुख्ता प्रमाण मांग रहा है. दोनों पक्षों के बीच बातचीत जारी है.

तहसीलदार ने दिया पूरा हिसाब-किताब
तहसीलदार मनीष जैन ने बताया कि वर्ष 2015-16 में मंदिर प्रबंधन की ओर से बैंक में एफडी कराई गई थी एक करोड़ 22 लाख 55 हजार 572 रुपये की. दरअसल, वो पैसा एक खाते से निकालकर एसबीआई के खाते में जमा किया गया था. आयकर विभाग ने इस बात को संज्ञान लिया और 23 मार्च को एक नोटिस जारी किया. इस नोटिस का जवाब हमने 30 मार्च को दाखिल कर दिया था. हमारे जवाब को आयकर ने स्वीकार नहीं किया. उन्होंने मंदिर के संबंध में पूछा है कि इसका स्वामित्व किसके पास है. इसके बाद हमने फिर जवाब भेजा कि मंदिर सरकारी स्वामित्व में है. इस पर आयकर अधिनियम के प्रावधान लागू नहीं होते हैं. यह जवाब आयकर विभाग ने स्वीकार कर लिया. उसके बाद हमारे पास कोई नोटिस नहीं आया

Advertisement
Advertisement

Related posts

सिक्किम में हिमस्खलन में 7 लोगों की मौत जबकि 150 पर्यटकों के फंसे होने की आशंका

News Times 7

बैंकिंग हुआ और आसान,SBI ग्राहक अब बस डायल करें 1234, उठाएं बैंक की 30 सुविधाओं का लाभ, निपटाएं शिकायतें

News Times 7

67वीं बीपीएससी-सिविल सेवा परीक्षा पेपर लिक होने के बाद 15 जून को हो सकती है दुबारा आयोजित

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़