News Times 7
टॉप न्यूज़ ब्रे़किंग न्यूज़

340 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे 1 मई से टोल टैक्स की शुरू होगी वसूली

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्‍ट पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर आज (1 मई 2022) से टोल टैक्स वसूली का काम शुरू हो जाएगा. इस एक्सप्रेसवे पर लखनऊ से गाजीपुर तक यूपीडा ने टोल वसूली के लिए कुल 13 एंट्री/एग्जिट प्वाइंट बनाए हैं. लखनऊ के गोसाईगंज के महोराकलां के अलावा गाजीपुर के हैदरिया में बड़ा टोल प्‍लाजा है, तो बाकी जगह पर 11 छोटे टोल प्‍लाजा हैं. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे 340 किलोमीटर लंबा है, जोकि देश की किसी भी सरकार द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा प्रोजेक्‍ट है.purvanchal expressway: खूबियों से भरपूर है पूर्वांचल एक्सप्रेस वे -  Purvanchal Expressway is full of features - Navbharat Times

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे की तरह ही टोल टैक्स में 25 प्रतिशत छूट जारी रहेगी. जबकि टोल वसूली शनिवार रात 12 बजे के बाद शुरू हो गई हैं. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर लखनऊ से गाजीपुर कार, जीप, वैन या हल्के मोटर वाहन को 675 रुपये देने होंगे. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर चार पहिया वाहनों के लिए 2.45 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से टोल टैक्स तय किया गया है. इसके अलावा मिनी बसों के लिए 1065, बस या ट्रक के लिए 2145, तो एचसीएम, ईएमआई या बहुधुरीय वाहन (3 से 6 धुरीय) के लिए 3285 रुपये अदा करने होंगे. वहीं, ओवरसाइज्ड व्‍हीकल (7 या अधिक धुरीय) के लिए 4185 रुपये टोल टैक्‍स होगा.

कहीं से भी शुरू करें यात्रा, लेकिन देना होगा टोल
पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर बीच में कहीं से भी यात्रा शुरू करने वालों को भी टोल देना होगा. जबकि टोल वसूलने की जिम्मेदारी इंदौर की एजेंसी मेसर्स प्रकाश एस्फाल्टिंग्स एंड टोल हाईवेज इंडिया लिमिटेड के पास है. कंपनी ने पहले ही अपनी तैयारी पूरी कर ली थी और 30 अप्रैल की रात 12 बजे के बाद से टोल टैक्‍स की वसूली शुरू कर दी है.Purvanchal expressway photos pm narendra modi to inaugurate on 16 november  know the routemap and toll tax upat - पूर्वांचल एक्सप्रेसवे: 16 नवंबर से  फर्राटा भरेंगी गाड़ियां, जानिए कितनी बार ...

Advertisement

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे प्रदेश के 9 जिलों से होकर गुजरता है
पूर्वांचल एक्सप्रेसवे 340 किलोमीटर लंबा है और यह उत्तर प्रदेश के नौ जिलों से होकर गुजरता है. यूपी सरकार का यह ड्रीम प्रोजेक्‍ट राज्‍य की राजधानी लखनऊ से गाजीपुर तक बना है, जोकि बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अंबेडकर नगर, आजमगढ़ और मऊ से होकर गुजरता है.

यही नहीं, 11216 करोड़ रुपये की लागत तैयारा हुआ देश का सबसे लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को बाद में बलिया तक बढ़ाया जा सकता है. यही नहीं, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे 22 फ्लाईओवर, 7 रेलवे ओवरब्रिज, 7 बड़े पुल, 114 छोटे पुल समेत 45 वाहन अंडरपास, 139 छोटे वाहन अंडरपास और 87 पैदल अंडरपास भी बनाए गए हैं. जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से ठीक पहले 16 नवंबर, 2021 को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का लोकार्पण किया था. इस दौरान एक्सप्रेसवे पर फाइटर प्लेन ने लैंडिग और टेक-ऑफ भी किया था.

Advertisement
Advertisement

Related posts

बिना नाम लिए प्रियंका गांधी ने भाजपा पर बोला करारा हमला ,कहा- झूठे वादे करने वाले भ्रष्ट लोग आपको बेवकूफ नहीं बना पाएंगे

News Times 7

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी पर पुलिस ने रखा 25 हजार का इनाम अब तक फरार

News Times 7

लखीमपुर खीरी हिंसा पर बोले राहुल, संसद में हमें बोलने नहीं दिया जा रहा,केंद्रीय मंत्री अजय टेनी इस्तीफा दें

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़