News Times 7
टॉप न्यूज़ ब्रे़किंग न्यूज़

दिल्ली में ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने के लिए केजरीवाल सरकार का बड़ा कदम ,यहां बनेंगे 6 लेन वाले 2 फ्लाईओवर

दिल्लीवालों के लिए राहत वाली खबर है. दिल्ली के हजारों लोगों को ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने के लिए अरविंद केजरीवाल सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. राजधानी की सड़कों से भीड़ कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने मंगलवार को आनंद विहार और अप्सरा सीमा और राजा गार्डन फ्लाईओवर और पंजाबी बाग फ्लाईओवर के बीच छह लेन के एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण को मंजूरी दे दी है.

दिल्ली सरकार ने कॉरिडोर और फ्लाईओवर विकास के लिए 724.36 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी दी है. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को हुई व्यय वित्त समिति यानी एक्सपेंडिचर फिनांस कमेटी (ईएफसी) की बैठक में परियोजनाओं को मंजूरी दी. इन परियोजनाओं में पंजाबी बाग फ्लाईओवर और राजा गार्डन फ्लाईओवर के बीच 352.32 करोड़ रुपये के कॉरिडोर का निर्माण और आनंद विहार आरओबी से अप्सरा बॉर्डर आरओबी के बीच 372.04 करोड़ रुपये का फ्लाईओवर शामिल है.राहत: दिल्लीवालों को ट्रैफिक जाम से मिलेगा छुटकारा, यहां बनेंगे 6 लेन वाले 2 फ्लाईओवर; यह है प्लान - delhi to get two new flyovers in punjabi bagh anand vihar for traffic

परियोजना के डिडेल्स की समीक्षा करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इस फ्लाईओवर और कॉरिडोर के निर्माण से लाखों यात्रियों को लाभ होगा. ये परियोजनाएं मौजूदा सड़कों की क्षमता को बढ़ाकर यातायात की समस्याओं को खत्म कर उन्हें सुरक्षित बनाएगी. केजरीवाल सरकार शहर में ट्रैफिक हॉटस्पॉट की पहचान करने और उन्हें कम करने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है. हमारा उद्देश्य दिल्ली की सड़कों पर भीड़भाड़ कम करना, उन्हें सुंदर बनाना और दिल्ली के साथ-साथ अन्य राज्यों के यात्रियों को बेहतर अनुभव प्रदान करना है.

Advertisement

यहां ध्यान देने वाली बात है कि राजा गार्डन फ्लाईओवर और पंजाबी बाग फ्लाईओवर के बीच का खंड दक्षिण दिल्ली, गुरुग्राम और एनसीआर के अन्य हिस्सों को उत्तरी दिल्ली से जोड़ने वाली रिंग रोड का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. दिल्ली सरकार ने कहा कि पीक आवर्स में यहां यात्रियों को भारी ट्रैफिक का सामना करना पड़ता है. यहां वन वे फ्लाईओवर और कम क्षमता वाले चौराहों से क्षेत्र में भारी ट्रैफिक जाम हो जाता है, जिससे यात्रियों के साथ-साथ आसपास की आवासीय कॉलोनियों को भी परेशानी होती है. ऐसे में राजा गार्डन फ्लाईओवर और पंजाबी बाग फ्लाईओवर के बीच एक कॉरिडोर के निर्माण से यातायात की भीड़भाड़ कम करने में मदद मिलेगी और हर दिन लाखों अंतरराज्यीय यात्रियों को राहत मिलेगी.ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर: अब आनंद विहार बस अड्डा से जखीरा फ्लाईओवर तक - east-west-corridor-now-from-anand-vihar-bus-adda-to-zakhira-flyover

दिल्ली सरकार का मानना ​​है कि नए फ्लाईओवर के बनने से यहां ट्रैफिक आसान हो जाएगा. राजा गार्डन फ्लाईओवर और पंजाबी बाग फ्लाईओवर के बीच कॉरिडोर विकास परियोजना की प्रमुख विशेषताएं…

-ईएसआई अस्पताल से मौजूदा पंजाबी बाग क्लब रोड हाफ फ्लाईओवर तक छह-लेन एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण
-मौजूदा क्लब रोड को टू-लेन से हाफ फ्लाईओवर को 6 लेन बनाना
-मौजूदा मोती नगर हाफ फ्लाईओवर को टू-लेन वन वे से सिक्स-लेन टू वे का निर्माणदिल्ली RTO ने ड्राइविंग टेस्ट की बुकिंग घटा दी है जाने क्या है कारण

Advertisement

आनंद विहार और अप्सरा बॉर्डर के बीच फ्लाईओवर के निर्माण की प्रमुख विशेषताओं में छह-लेन एलिवेटेड कॉरिडोर, दो अप-डाउन रैंप शामिल हैं, जो आसपास के क्षेत्रों, साइकिल लेन और बहु-उपयोगिता क्षेत्रों के लोगों को फ्लाईओवर से सीधे संपर्क प्रदान करते हैं.

Advertisement

Related posts

तालिबान में दिखेगा क्रूरता का एक और मंजर, हजारो खूंखार कैदियों को किया रिहा,अपराधियों से बचती फिर रहीं महिला जज,और बचा रही आबरू

News Times 7

क्रिकेट की दुनिया को अलविदा कह राजनीतिक पिच पर सियासी पारी खेल सकते है हरभजन सिंह

News Times 7

पीएफ खाते से एडवांस निकाल सकते हैं एक लाख रुपये जानिये कैसे

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़