News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़राजनीति

ममता के गढ़ में RSS प्रमुख मोहन भागवत की एंट्री RSS करेगी अपना प्रचार प्रसार

आगामी बंगाल के चुनाव को देखते हुए आरके प्रमुख मोहन भागवत का आज दो दिवसीय दौरा होने वाला है अगर कहे तो अगस्त 2019 के बाद मोहन भागवत का यह बंगाल का पांचवा दौरा है आर एस एस प्रमुख मोहन भागवत भाजपा को ममता के गढ़ में संगठन को ब्लॉक लेवल तक मजबूत करना चाहते हैं लगातार आर एस एस प्रमुख मोहन भागवत के बाद भी हमेशा जेपी नड्डा कैलाश विजयवर्गीय की यात्राएं भी खूब हुई बंगाल की सियासत में इन सब इंट्री ने वहां के माहौल को गर्म कर दिया है!Why RSS chief Mohan Bhagwat visits bengal 4 times in a year| पश्चिम बंगाल पर आरएसएस का फोकस, एक साल में 4 बार हुआ भागवत का दौरा - India TV Hindi News

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 19 दिसंबर को पश्चिम बंगाल आने वाले हैं. उनसे पहले राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत 12 दिसंबर शनिवार को पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर होंगे. अगस्त 2019 के बाद से यह उनका पांचवां बंगाल दौरा है.

भागवत अपने कोलकाता दौरे के दौरान सूबे के युवा मेधावियों से मुलाकात करेंगे. भागवत इस दौरान राज्य के युवाओं से मिलेंगे जो स्पेस रिसर्च, नासा, माइक्रोबायोलॉजी, मेडिकल साइंस के क्षेत्र में उपलब्धियां हासिल कर वापस भारत लौटकर, मेक इन इंडिया और आत्मनिर्भर भारत अभियान में अहम योगदान दे रहे हैं.RSS प्रमुख मोहन भागवत आज से दो दिन के बंगाल दौरे पर

Advertisement

अगस्त 2019 के बाद भागवत की यह पांचवीं बंगाल यात्रा है. उनका ध्येय संगठन को ब्लॉक स्तर पर मजबूत करना है. इससे पहले वह 2019 में  1 अगस्त, 31 अगस्त,19  सिंतबर और 2020 में 22 सिंतबर को बंगाल की यात्रा कर चुके हैं. भागवत की यात्रा अमित शाह के 19 दिसंबर को होने वाले बंगाल दौरे से पहले हो रही है. ऐसे में यह यात्रा राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिहाज से अहम मानी जा रही है.

संघ की मौजूदगी 1939 से बंगाल में रही है लेकिन वामपंथ के 34 साल के कार्यकाल में संघ का प्रभाव व्यापक नहीं हो पाया है. 2011 में वामपंथी सरकार जाने के बाद और 2014 में केंद्र में मोदी सरकार के आने के बाद से संघ लगातार बंगाल में अपनी पकड़ मजबूत बनाने की जुगत में लगा हुआ है.ममता के बंगाल में मोहन भागवत के बाद अब अमित शाह को भी जगह नहीं - amit shah bengal visit mamata government venue bjp rss mohan bhagwat - AajTak

बता दें कि इससे पहले हाल ही में बीजेपी नड्डा भी पश्चिम बंगाल दौरे पर थे. इस दौरान उनके काफिले पर हमला भी हुआ था. इस घटना के बाद से बीजेपी ने टीएमसी की ममता बनर्जी को घेरना शुरू कर दिया है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस मसले को लेकर भी अपनी यात्रा के दौरान बैठक करेंगे. उन्होंने ममता सरकार से जेपी नड्डा की सुरक्षा में हुई चूक को लेकर जवाब भी मांगा है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

नवराञ की शुभकामनाओं सहीत पीएम मोदी ने की गरीबो के जीवन मे बदलाव की कामना

News Times 7

नीतीश कुमार को 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए एकजुट विपक्ष का प्रधानमंत्री पद का चेहरा बनने की चर्चा जोरों पर

News Times 7

CM नीतीश को ‘थका’ हुआ बताने के बाद अब ‘कमजोर’ साबित करने की कोशिश में जुटी RJD, जानें- क्या है पूरा मामला

Admin

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़