News Times 7
अर्थव्यवस्था आंदोलन टॉप न्यूज़ ब्रे़किंग न्यूज़ राजनीति

आंदोलन तभी खत्म होगा जब तीनों कानून रद्द हो या MSPपर सरकार अलग बिल लाए

नए कृषि कानून के विरोध में 8 दिसंबर को भारत बंद के बाद किसान अपनी मांग पर अडे हुए हैं और आंदोलन को तेज करने की धमकी दे चुके हैं किसानों का सीधा कहना है कि सरकार तीनों कानून या तो रद्द करें या MSP पर नए बिल लाए , हम इन बिल के समझौते पर तैयार नहीं है सरकार घूम फिर कर हमें अपने बातों पर तैयार करने की कोशिश कर रही है कृषि कानून का विरोध क्यों, जानें, इससे किसानों को कितना फायदा- क्या नुकसानलेकिन हम जब आंदोलन पर डट चुके हैं तो हम पीछे नहीं हटेंगे सरकार को हमारी बात माननी होगी या अब यह आंदोलन और तेज होगा ! नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के आंदोलन का आज 15वां दिन है। किसानों को मनाने के लिए 6 राउंड बातचीत के बाद सरकार की लिखित कोशिश भी बुधवार को नाकाम हो गई। किसान अब आंदोलन तेज करने में जुटे हैं। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार का इंटरेस्ट सिर्फ विरोध खत्म करवाने में है।कृषि अध्यादेश के विरोध में सड़कों पर उतरे किसान लेकिन, आंदोलन तब तक खत्म नहीं करेंगे, जब तक कि तीनों कानूनों वापस नहीं ले लिए जाएं। टिकैत ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर अलग से बिल लाने की मांग भी की है।

किसान देशभर में हाईवे जाम करने की तैयारी कर रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेता मंजीत सिंह ने कहा है कि सरकार हमारे आंदोलन को कमजोर करना चाहती है। लेकिन, इसमें शामिल होने के लिए बहुत सारे किसान दिल्ली पहुंच रहे हैं। हम दिल्ली के लोगों से भी सपोर्ट की अपील कर रहे हैं।

न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर आज किसानों से आंदोलन खत्म करने और साथ मिलकर हल निकालने की अपील करेंगे। कृषि मंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेंगे।दिल्ली में किसान संगठनों का ऐलान, मानसून सत्र चलने तक सरकारी नीतियों के  खिलाफ ऐसे होगा

Advertisement

सरकार ने कृषि कानूनों में बदलाव करने समेत 22 पेज का प्रपोजल बुधवार को किसानों को भेजा था, लेकिन बात बनने की बजाय ज्यादा बिगड़ गई। किसानों ने सरकारी कागज को सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि अब जयपुर-दिल्ली और आगरा-दिल्ली हाईवे समेत तमाम नेशनल हाईवे जाम किए जाएंगे। अंबानी, अडानी के प्रोडक्ट का बायकॉट और भाजपा नेताओं का घेराव किया जाएगा। इस बीच सरकार के दूसरे प्रस्ताव का भी इंतजार रहेगा।

Advertisement

Related posts

भारतीयों की न्यूजीलैंड में 11 से 28 अप्रैल तक एंट्री पर बैन, सिंगापुर ने 8 हजार वीजा पर लगाई रोक

News Times 7

बोले अक्षय कुमार ,ठीक है बुलाओ मुझे कनाडा कुमार ,अब फर्क नहीं पड़ता

News Times 7

तेजस्वी यादव ने कहा कि ये सरकार तानाशाही है, बिहार की विधानसभा जदयू और भाजपा का कार्यालय बन गया है

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़