News Times 7
खेल

गूगल प्ले-स्टोर पर शुरू हुआ FAU-G गेम का प्री-रजिस्ट्रेशन, रेवेन्यू का 20% हिस्सा शहीदों के परिवार को दिया जाएगा

FAU-G मोबाइल गेम आखिरकार गूगल प्ले स्टोर पर दिखाई दे रहा है। गेम अभी तक लॉन्च नहीं हुआ है, लेकिन कई देरी और लॉन्च की तारीखों को बदलने के बाद, अब इसे प्री-रजिस्ट्रेशन के लिए गूगल प्ले स्टोर पर डाल दिया गया है। ऐसा लगता है कि डेवलपर्स नए गेम को लॉन्च करने के लिए फिलहाल एंड्रॉयड तक सीमित हैं, क्योंकि एपल के ऐप स्टोर पर अभी तक प्री-रजिस्ट्रेशन नहीं आए हैं।

पबजी बैन होने के दो दिन बाद हूई थी FAU-G की घोषणा
टीजर की तुलना में प्ले-स्टोर लिस्टिंग में इसकी थोड़ी डिटेल्स भी दिखाई दे रही है। भारत में FAU-G, पबजी मोबाइल इंडिया को चुनौती देगा और इसकी घोषणा सितंबर में पबजी समेत 117 चीनी ऐप्स के बैन होने की ठीक दो दिन बाद की गई थी। लेकिन पबजी के लिए एक भारतीय विकल्प से अधिक, FAU-G को देशभक्ति के खेल के रूप में भारी बढ़ावा दिया जा रहा है जो सशस्त्र बलों के योगदान पर प्रकाश डालता है।

Advertisement

प्री-रजिस्ट्रेशन के लिए गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध FAU-G

  • FAU-G का पूरा नाम है ‘फियरलेस और यूनाइटेड गार्ड्स’ है, अब प्री-रजिस्ट्रेशन के लिए गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है।
  • जो यूजर्स प्री-रजिस्टर्ड होंगे, उन्हें एक पुश मैसेज मिलेगा जिससे उन्हें पता चल सकेगा कि गेम डाउनलोड के लिए उपलब्ध है।
  • एलिजिबल डिवाइसेस में गेम ऑटोमैटिकली डाउनलोड और इंस्टॉल होगा।
  • डाउनलोड साइज और वर्जन के बारे में अन्य डिटेल्स अभी भी सामने नहीं आई हैं।

लिस्टिंग में सामने आई FAU-G की संक्षिप्त जानकारी

Advertisement
  • जैसा कि टीजर ने खुलासा किया था, खेल में एक स्तर होने की उम्मीद थी जो एक्चुअल कंट्रोल लाइन (एलएसी) के साथ भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच गलवान घाटी संघर्ष का अनुकरण करता है।
  • लेकिन अब खेल की डिटेल से पता चलता है कि पूरा गेम-प्ले भारतीय सैनिकों के आसपास “भारत की उत्तरी सीमा की चोटियों” पर केंद्रित होगा।
  • कैरेक्टर्स में खतरनाक क्षेत्रों में गश्त करने वाले भारतीय सैनिकों के एलीट ग्रुप को FAU-G कमांडो कहा जाएगा।

FAU-G गेम को “आत्मनिर्भर भारत” मुहीम के तहत तैयार किया जा रहा है। nCore Games ने कहा है कि खेल से जनरेट होने वाले नेट रेवेन्यू का 20 प्रतिशत हिस्सा भारत के वीर को समर्पित किया जाएगा, जो सरकार द्वारा सैनिकों के परिवारों के लिए एक ट्रस्ट बनाया गया है, जो ड्यूटी के दौरान मारे जाते हैं।

Advertisement
Advertisement

Related posts

सुनील गावस्कर ने विराट कोहली को आराम देने पर जताई हैरानी, पढ़ें- भारत-विंडीज सीरीज पर और क्या कहा

News Times 7

IPL2021-नीलामी में लगी 57 खिलाड़ियों की बोली ,जानिए कौन कितने में खरीदा गया

News Times 7

IPL auction 2022: ब्रावो फिर बने सीएसके का हिस्सा तो होल्डर ने लखनऊ में मारी एंट्री, हर्षल पटेल को आरसीबी ने खरीदा

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़