News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए बिहार में एक बार फिर से बाहुबली पॉलिटिक्स की शुरुआत

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए बिहार में एक बार फिर से बाहुबली पॉलिटिक्स की शुरुआत हो गई है. कांग्रेस और आरजेडी जैसी पार्टियां बिहार के बाहुबली नेताओं को मैदान में उतारने का मन बना लिया है. दोनों पार्टियां इस बार बिहार के तकरीबन 10-12 लोकसभा सीटों पर बाहुबली नेताओं के प्रभाव को भुनाने जा रही है. राजनीतिक जानकारों की मानें तो सालों बाद बिहार की पॉलिटिक्स में आउटडेटेड हो चुके बाहुबली नेताओं की एंट्री होने वाली है. ये बाहुबाली नेता या तो खुद या फिर परिवार के किसी सदस्य को चुनाव लड़ाने का मन बना रहे हैं. आइए समझते हैं कि बिहार की राजनीति में आउटडेटेड हो चुके पप्पू यादव, सुरज भान सिंह, आनंद मोहन, अशोक महतो, अनंत सिंह, मुन्ना शुक्ला, प्रभुनाथ सिंह और राजन तिवारी जैसे बाहुबलियों के लिए लोकसभा चुनाव 2024 कितना अहम होने जा रहा है

राजनीतिक जानकार संजीव पांडेय की मानें तो जनता इस बार भी बाहुबलियों को सिरे से नकारने वाली है. हालांकि, पांडेय कहते हैं, ‘बिहार में अबकी बार बाहुबलियों की भरमार होने वाली है. एलजेपी और जेडीयू के टिकट पर जीतने वाले कई बाहुबली नेता इस बार कांग्रेस और आरजेडी का रुख कर सकते हैं. इसके कई कारण हैं. एक कारण यह भी है कि कुछ नेताओं को एनडीए गठबंधन से टिकट नहीं मिल रहा है. आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद का टिकट मिलना लगभग तय है. वहीं, बाहुबली नेता सुरजभान सिंह के भाई चंदन सिंह को इस बार टिकट मिलने में काफी मशक्कत करनी पड़ेगी. पप्पू यादव ने तो अपनी पार्टी राष्ट्रीय जनाधिकार पार्टी का कांग्रेस में विलय कर लिया है. ऐसे में कांग्रेस पार्टी मधेपुरा, पूर्णिया, सहरसा, ठाकुरगंज और सुपौल जैसे इलाकों में पप्पू यादव के प्रभाव को भुनाना चाहेगी

सबसे ज्यादा चर्चा इस बार सुरज भान सिंह के भाई और नवादा के मौजूदा सांसद चंदन सिंह को लेकर हो रही है. माना जा रहा है कि चिराग पासवान इस बार चंदन सिंह का टिकट काट दिया है. ऐसे में चंदन सिंह की कांग्रेस में जाने की अटकलें शुरू हो गई है. वहीं, सूत्रों की मानें तो सुरज भान सिंह बीजेपी के आला नेताओं के लगातार संपर्क में हैं. माना जा रहा है कि चिराग पासवान को नवादा सीट से चंदन सिंह या फिर सुरज भान सिंह की पत्नी को देने के लिए मनाया जा रहा है. दूसरी तरफ चंदन सिंह का कांग्रेस में भी जाने की चर्चा शुरू हो गई है

Advertisement

बिहार के एक और बाहुबली नेता और महाराजगंज से तीन बार सांसद रहे प्रभुनाथ सिंह के बेटे रणधीर सिंह को लेकर भी चर्चा जोरों पर है. आरजेडी सूत्रों की मानें तो रणधीर सिंह के आरजेडी महाराजगंज से मैदान में उतार सकती है. प्रभुनाथ सिंह के भाई भी इस समय विधायक हैं. आपको बता दें कि प्रभुनाथ सिंह को पूर्व विधायक अशोक सिंह की हत्या के आरोप में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं. प्रभुनाथ सिंह का अभी भी सारण, सिवान और महाराजगंज इलाके में अच्छा खासा दबदबा है

Advertisement

Related posts

कोरोना मे भारतीय स्टेट बैंक की बडी पहल, कोरोना मे मदद के लिए आवंटित किये 71करोड

News Times 7

केरल में गूगल मैप बनी परिवार की मुसीबत रास्ता खोजने के दौरान गूगल ने नहर को बताया सड़क, हुआ बड़ा हादसा

News Times 7

फिल्म लावारिस के गाने का भोजपुरी वर्जन ,अपनी तो जैसे तैसे, लेकर आ रहे है खेसारी

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़