News Times 7
अर्थव्यवस्थाटॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

फिर से मिलेगी देसी खुशबू ,स्टेशनों पर मिलेगी कुल्हड़ में चाय रेल मंत्री ने दिया आदेश

रेल मंत्री पीयूष गोयल के आदेश पर फिर से देसी और सोंधी खुशबू लोगों को करीब आएगी ! जहां मिट्टी के कुल्हड़ वाली है चाय रेलवे स्टेशनों पर मिलेगी प्लास्टिक मुक्त करने की मुहिम में यह रेल मंत्रालय का अहम फैसला है जहां कुल्हड़ की चाय से हर एक वर्ग को फायदा पहुंचाने की मुहिम तेज होगी वही प्रदूषण पर भी लगाम होगा कुल्हड़ वाली चाय को बढ़ावा देकर कुम्हारों के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने जो योगदान दिया वह सराहनीय है! राजस्थान के अलवर में ढिगावड़ा रेलखंड पर पहली विद्युतीकृत ट्रेन का उद्घाटन करते हुए कहा कि आज देश में लगभग 400 रेलवे स्टेशनों पर कुल्हड़ में ही चाय मिलती है.राजस्थान के अलवर में ढिगावड़ा रेलखंड पर पहली विद्युतीकृत ट्रेन का उद्घाटन करते हुए कहा कि आज देश में लगभग 400 रेलवे स्टेशनों पर कुल्हड़ में ही चाय मिलती है. रेल मंत्री का बड़ा एलान, अब देश के हर रेलवे स्टेशन पर मिलेगी कुल्हड़ चाय

रेल मंत्री ने कहा कि रेल मंत्रालय की योजना है कि आने वाले दिनों में देश के हर रेलवे स्टेशन पर सिर्फ कुल्हड़ में ही चाय मिले. इससे प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने में मदद मिलेगी और पर्यावरण प्रदूषण पर भी रोक लगेगी. इसके अलावा देश में लाखों लोगों को रोजगार भी मिल सकेगा.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि राजस्थान में मोदी सरकार ने रेलवे का विकास किया है. मोदी सरकार रेलवे लाइनों का विद्युतीकरण कर रही है, जिससे भारत में विदेशों से आयात किए जाने वाले कुल डायल की बचत होगी और डीजल इंजन बंद होंगे. इससे स्वदेशी बढ़ाओ योजना के तहत इलेक्ट्रिक इंजन चलेंगे और भारत को फायदा होगा.

Advertisement

पीयूष गोयल ने कहा कि 35 साल तक किसी ने राजस्थान रेलवे के विकास की चिंता नहीं की. 2014 में मोदी सरकार आई तो प्रधानमंत्री मंत्री ने देश की सभी रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण करने का फैसला किया. 2014 के बाद 1433 किलोमीटर विद्युतीकरण का काम हुआ. प्रत्येक वर्ष 240 किलोमीटर काम हुआ. 2009 से 2014 के बीच 65 अंडर पास बने. जबकि 2014 के बाद 378 अंडर पास व सबवे बने.ठंड में गर्माहट देगा 'कूल और क्लासी' कुल्हड़, 16 साल बाद ट्रेन के सफर में मिलेगा वही पुराना एहसास | Zee Business Hindi

रेल मंत्री ने कहा कि रेलवे स्टेशनों पर पहले कुल्लड़ में चाय मिलती थी, लेकिन प्लास्टिक के कप आने के बाद इनका चलन बढ़ गया. गोयल ने कहा कि प्लास्टिक मुक्त भारत में रेलवे का भी अहम योगदान रहेगा. रेलवे स्टेशनों पर प्लास्टिक की बजाए मिट्टी के कुल्लड़ में चाय मिलेगी.

बता दें कि उत्तर-पश्चिम रेलवे  के जयपुर मंडल के ढिगावड़ा-बांदीकुई रेलखंड पर विद्युतीकरण का काम पूरा हो गया है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को इस रेलखंड पर पहली विद्युतीकृत ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

Advertisement
Advertisement

Related posts

शिवसेना में बड़ी टूट के बाद भी बचे हुए विधायक सांसदों में बगावती सुर

News Times 7

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कार्यालय से मिला आदेश तो आठ महीने बाद भैंस ढूंढने निकली पुलिस

News Times 7

सरकार का बड़ा फैसला -कोरोना संकट को देखते हुए स्कूल फीस में 15 पर्सेंट होगी कटौती

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़