News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़राजनीति

छलका दर्द बोले कुमारस्वामी बीजेपी से दोस्ती रहती तो CMबना रहता ,कांग्रेस ने बर्बाद कर दिया

कर्नाटक के नाटक में अहम योगदान जिस प्रकार एचडी कुमार स्वामी ने निभाया था ,उस पर आज उनका दर्द छलक गया सीएम की कुर्सी जाने के बाद पहली बार कांग्रेस पर दो टूक बोलते हुए एचडी कुमार स्वामी ने बीजेपी और कांग्रेस से रिश्ते को लोगों के सामने रख दिया जहां भाजपा से मैत्री संबंध की बात की तो कांग्रेस के ऊपर बर्बादी का आरोप लगा दिया, चुकी जानकारी होगी कांग्रेस के समर्थन से ही कुमार स्वामी मुख्यमंत्री के कुर्सी संभाले थे,कुमारस्वामी कांग्रेस को सीएम पद देने के लिए हुए तैयार- पाँच बड़ी ख़बरें - BBC News हिंदी पर विधायकों का टूटना और पार्टी के अंदर बगावत ने कांग्रेस के साथ-साथ कुमार स्वामी की कुर्सी भी संकट में डाल दि, आज मैसूर में एचडी कुमार स्वामी ने स्पष्ट किया की मैं अभी भी मुख्यमंत्री होता अगर बीजेपी के साथ अच्छे संबंध बनाए रखता मैंने 2006 – 2007 में और 12 साल की अवधि में जो भी कुछ हासिल किया उसे मैंने कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन करके खत्म कर दिया! जनता दल सेकुलर के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने मैसूर में कहा, ‘मैं अभी भी मुख्यमंत्री होता अगर बीजेपी के साथ अच्छे संबंध बनाए रखता. मैंने 2006-2007 में और 12 साल की अवधि में जो कुछ भी मैंने हासिल किया था, उसे मैंने कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन करके खत्म कर दिया.

उन्होंने कहा, ‘मैंने 2006-07 में ( बतौर मुख्यमंत्री) राज्य की जनता का जो भरोसा हासिल किया था और उसे अगले 12 साल तक बनाए भी रखा, लेकिन कांग्रेस से हाथ मिलाकर हमने उसे खो दिया. कुमारस्वामी ने कहा, ‘2018 में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के बाद, सिद्धारमैया और उनके गुट ने मेरी प्रतिष्ठा को नष्ट कर दिया. मैं सिर्फ उनके जाल में फंसता चला गया, क्योंकि मैं देवेगौड़ा के कारण गठबंधन के लिए सहमत था.’ उन्होंने साफ किया कि इसके लिए वह देवगौड़ा को दोष नहीं दे रहे हैं क्योंकि वह धर्मनिरपेक्ष पहचान के प्रति अपने पिता की आजीवन प्रतिबद्धता को समझते और उसका सम्मान करते हैं.अब एचडी कुमारस्वामी ने उठाया ईवीएम पर सवाल

पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी कहा, ‘2018 में मुख्यमंत्री बनने के बाद मैंने सिर्फ एक महीने तब आँसू क्यों बहाए? मुझे पता था कि क्या चल रहा है. भारतीय जनता पार्टी ने 2008 में मेरा उतना नुकसान नहीं किया, जिस तरह से कांग्रेस ने 2018 में किया.’!  2 साल पहले 2018 में कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जब किसी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला तो एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ने वाली कांग्रेस और जनता दल (एस) ने मिलकर सरकार बनाई थी और एचडी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनाया गया.!

Advertisement

दोनों पार्टियों ने पिछले साल साथ मिलकर लोकसभा चुनाव भी लड़ा, लेकिन इसके बाद गठबंधन में आंतरिक मतभेद गहरा गया और कुछ विधायकों की बगावत के चलते गठबंधन सरकार का पतन हो गया. एचडी कुमारस्वामी के आरोपों पर पटलवार करते हुए कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने आरोप लगाया, ‘कुमारस्वामी झूठ बोलने में माहिर हैं, वह राजनीति की खातिर हालात के मुताबिक झूठ बोल सकते हैं. जनता दल (एस) को 37 सीटें मिलने के बावजूद उन्हें मुख्यमंत्री बनाना क्या हमारी गलती थी?

Advertisement

Related posts

झारखंड के हजारीबाग में हुई कार्रवाई के दौरान कोयल छोड़कर तस्कर हुए फरार

News Times 7

शराब पार्टी में नहीं पता चला और लग गई आग, 2 लोग जिंदा जले

News Times 7

ओमिक्रॉन : देश में कोरोना की तीसरी लहर का दिखने लगा असर

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़