News Times 7
आंदोलन टॉप न्यूज़ ब्रे़किंग न्यूज़

8 को भारत बंद का ऐलान, किसानों ने की सभी संगठनों से मांग भारत बंद में दें समर्थन

कृषि कानूनों को लेकर उग्र किसान संगठनों ने जब गुरुवार को केंद्र सरकार के साथ बातचीत की और वहां जब बात बनती नजर नहीं आई तब आपस में चर्चा के बाद संयुक्त रूप से किसान मोर्चा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह तय किया की बिना कृषि कानून को रद्द करने कराएं हमारा आंदोलन खत्म नहीं होगा ! सिंधु बॉर्डर पर बैठक के बाद किसान नेता हरिंदर पाल लखोवाल ने कहा कि हमने सरकार से कल बात की है और साफ कहा है कि तीनों कानून वापस लें india News : Farmers Protest Updates : केंद्र से तकरार बढ़ाने को तैयार किसान, कहा- शनिवार को नहीं बनी बात तो 8 दिसंबर को भारत बंद - farmers could appeal for bharat उन्होंने बताया कि सरकार कुछ संशोधन करने को तैयार है लेकिन हमने सरकार से साफ कहा है कि सरकार तीनों कानून वापस ले. सिंघु बॉर्डर पर हुई बैठक बाद किसान नेता हरिंदर पाल लखोवाल ने कहा,  हमने कल सरकार से कल बात की है. हमने साफ़ कहा है कि तीनों कानून वापस ले. “उन्होंने है कि सरकार बिजली कानून और पराली जलाने को लेकर जुर्माना पर मानती दिख रही है.  लेकिन हम सभी किसानों को बोलते हैं कि वो यहां आएं ,लड़ाई आर पार की है हम पीछे हटने वाले नहीं हैं. किसानों ने 8 दिसंबर (मंगलवार) को पूरे भारत में बंद का आह्वान किया है.

इसके अलावा आज किसान नेताओं ने कहा कि हम 8 दिसंबर को पूरे देश के टोल प्लाजा फ्री करेंगे और जो दिल्ली के बचे कुचे रास्ते हैं उन्हें भी बंद करेंगे. किसानों कहा है कि वो कल 5 दिसंबर को पीएम मोदी के पुलते जलाएंगे. आखिर क्यों हो रहा है भारत बंद, ये हैं प्रमुख मांगें ? | after all, why is bharat bandh, know the reason?

किसान नेता अक्षय कंवर ने बताया, “आज की बैठक में  तीन निर्णय हुए, पहला ये कि कल जब सरकार से बात होगी तो साफ कर दिया जाएगा कि तीनों कानूनों को वापस लिए जाने के अलावा कोई बातचीत नहीं होगी. दूसरा ये कि कल शनिवार को देशभर में किसान संगठन पीएम मोदी के पुतले फूकेंगे. और तीसरा ये कि 8 दिसंबर को भारत बंद किया जाएगा. Ninth day of protest and warning of Bharat bandh government and farmers meeting will decide movementटोल प्लाजा को रोका जाएगा .किसानों के इस अड़े हुए तेवर को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा की किसान पूरी तरीके से आर पार के मूड में है वह पीछे हटने वाले नहीं हैं इसे देखते हुए तमाम किसान संगठनों ने देश में चल रहे तमाम संगठनों को कृषि कानून को रद्द कराने को लेकर 8 दिसंबर को भारत बंद में सहयोग करने को कहा है उन्होंने कहा कि 8 दिसंबर को भारत बंद कर अन्नदाता का साथ दिया जाए!

Advertisement
Advertisement

Related posts

हिमाचल में महिलाओं के खिलाफ गंदी हरकत करने का आरोपी अनूप केसरी साथियो सहित भाजपा में शामिल आप ने की थी पार्टी से निकालने की तैयारी

News Times 7

बेंगलुरु में आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट पर हिंसा:पुलिस फायरिंग में 3 की मौत, 60 पुलिसकर्मी जख्मी; 2 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू,

News Times 7

पवन सिंह के दूसरी पत्नी के तलाक पर बोली ज्योति सिंह पवन सिंह करते हैं मारपीट, दो बार करवाया एबॉर्शन

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़