News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़राजनीति

जंगलराज के युवराज से अलर्ट रहने की जरूरत है, बिहार मे अपहरण, रंगदारी व्याप्त थे – मोदी

  • युवराज के जंगलराज की याद दिलाई प्रधानमंत्री ने
  • इंजिनियरिंग मेडिकल की पढाई राष्ट्रीय भाषा में
  • बिहार मे अच्छा और सम्मान जनक रोजगार होगा
  • एमआरसी और सीएए पर विपक्ष ने डराने का काम किया

 

 

  • दुसरे चरण के मतदान के अंतिम दिन प्रधानमंत्री मोदी ने ताबड़तोड़ रैली कर विपक्ष पर करारा प्रहार किया हर तरफ एनडीए सरकार के लिए जनमत और विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए प्रधानमंत्री मोदी आज छपरा मे रैली को संबोधित कियें! छपरा की रैली मे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बिहार में एक ओर विकास का डबल इंजन है तो दूसरी ओर डबल-डबल युवराज भी हैं. इनमें से एक डबल युवराज तो जंगलराज का युवराज है. पीएम ने कहा कि इस युवराज से अलर्ट रहने की जरूरत है.

Advertisement

 

पीएम ने कहा कि डबल इंजन वाली एनडीए सरकार, बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, हमें आत्मनिर्भर बिहार बनाना, सशक्त बिहार बनाना है, तो ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि यूपी में एक बार डबल युवराज काले कोट पहनकर बस के ऊपर चढ़कर लोगों के सामने हाथ हिला रहे थे. यूपी की जनता ने वहां उन्हें घर लौटा दिया था. वहां के एक युवराज अब जंगलराज के युवराज से मिल गये हैं. यूपी में जो डबल-डबल युवराज का हुआ, वो ही बिहार में होगा.

बिहार के लोकपर्व छठ का मुद्दा उठाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना संकट में किसी को चिंतित होने की जरूरत नहीं है,  पीएम ने कहा कि कोरोना काल में किसी मां को ये चिंता करने की जरूरत नहीं है कि छठ पूजा को कैसे मनाएंगे. अरे मेरी मां! आपने अपने बेटे को दिल्ली मैं बैठाया है, तो क्या वो छठ की चिंता नहीं करेगा! मां! तुम छठ की तैयारी करो, दिल्ली में तुम्हारा बेटा बैठा है.

Advertisement

प्रधानमंत्री कहा कि बिहार ने वो दौर देखा है, जब बिहार के नौजवानों को उनकी मां बचपन में कहा करती थीं. वो कहती थीं- घर के भीतर ही रहो, बाहर मत निकलना, बाहर ‘लकड़सुंघवा’ घूम रहा है. बच्चों की माताएं उन्हें लकड़सुंघवा से क्यों डराती थीं? उन्हें डर था अपहरण करने वालों से, किडनैपिंग करने वालों से.

पीएम ने पश्चिमी चंपारण में जंगलराज का मुद्दा फिर से उठाया. उन्होंने कहा कहा कि याद कीजिए जंगल राज को जब लोग अपने घरों को सामने से सजाते नहीं थे, बड़े घर बनाते नहीं थे, अपने ही घर को सामने से पुराना करके रखते थे. उन्हें डर था, खौफ था. घर जितना अच्छा, किडनैपिंग उतनी जल्दी. घर जितना बड़ा, रंगदारी भी उतनी बड़ी.

पीएम ने कहा कि जब लोग नई गाड़ी खरीदते थे तो उसमें खुद खरोंच लगा देते थे, ताकि किसी की नजर न पड़े. पीएम ने कहा कि बिहार ने वो दिन भी देखे हैं जब रंगदारी की शिकायत करने के लिए, लोग किसी के पास जाते थे, तो उन्हें डबल रंगदारी देनी पड़ती थी. गाड़ी लूटी जाने की शिकायत करने के लिए लोग, जिसके पास अर्जी लेकर जाते थे, वो खुद लुटेरों के साथ घर में बैठा मिलता था.

Advertisement

अपनी दूसरी रैली समस्तीपुर में पीएम मोदी ने शनिवार की तरह आज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भी पुलवामा हमले का मुद्दा उठाया और कहा कि इस बारे में पाकिस्तान ने जो कुछ स्वीकार किया, उससे भारत के कई लोगों के चेहरे से नकाब हट गए.

पीएम नरेंद्र मोदी सरदार पटेल को लेकर एक बार फिर से कांग्रेस पर हमला बोला. पीएम ने कहा कि सरदार साहब कांग्रेस पार्टी के थे कि नहीं? फिर भी कांग्रेस पार्टी सरदार पटेल की जन्म जयंती पर उनका स्मरण तक नहीं की. उनके पेट में चूहे दौड़ने लगे. पीएम ने कहा कि सरदार पटेल, बीजेपी के नहीं थे, संघ के नहीं थे और न ही जनसंघ के थे.

पीएम ने कहा कि विपक्ष के लिए गरीब और गरीबी सत्ता प्राप्ति का साधन हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि इन लोगों को गरीब की परेशानी, उसकी मुसीबतों से कोई लेना देता नहीं है. इन्हें गरीब सिर्फ और सिर्फ चुनाव में याद आते हैं. जब चुनाव आते हैं तो ये माला जपना शुरू कर देते हैं- गरीब, गरीब, गरीब जब चुनाव पूरा हुआ तब ये बस अपने परिवार का कुनबा लेकर बैठ जाते हैं. ये वही लोग हैं जो सत्ता में आने पर रिश्तेदारों में जिला बांटते हैं.

Advertisement

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार में कई ऐसे छात्र हैं जिन्हें भाषा की समस्या है, और भाषा की बाध्यता की वजह से वे मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई नहीं कर पाते हैं लेकिन हमने वादा किया है कि सत्ता में आने पर हम हिन्दी भाषा में मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई उपलब्ध कराएंगे. पीएम ने कहा कि अब रेलवे और बैंकिंग जैसी परीक्षा के लिए एक ही प्रतियोगिता परीक्षा होगी, इससे छात्रों को सुविधा होगी.

मोतिहारी में पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के युवाओं को बिहार में ही अच्छा और सम्मानजनक रोजगार मिले, ये बहुत जरूरी है. सवाल ये है कि ये कौन दिला सकता है? वो लोग जिन्होंने बिहार को अंधेरे और अपराध की पहचान दी? वो लोग जिनके लिए रोजगार देना करोड़ों की कमाई का माध्यम है.

उन्होंने कहा जंगलराज की हालत तो ये थी कि जो उद्योग, जो चीनी मिले, दशकों से चंपारण और बिहार का अहम हिस्सा रही हैं, वो भी बंद हो गई. अब तो इस चुनाव मे जंगलराज वालों के साथ नक्सलवाद के समर्थक, देश के टुकड़े-टुकड़े करने की चाहत रखने वालों के समर्थक भी शामिल हो गए हैं.

Advertisement

पश्चिमी चंपारण में विपक्ष पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि झूठ बोलकर, लोगों को डराकर ये लोग हमेशा अपने स्वार्थ की सिद्धि करते रहे हैं, आप लोगों का विश्वास तोड़ते रहे हैं. पीएम ने कहा कि जब नागरिकता संशोधन कानून आया तो इन्होंने झूठ फैलाया कि बहुत सारे भारतीयों की नागरिकता चली जाएगी. अब एक साल होने को है, लेकिन क्या किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता गई.

पीएम ने कहा कि इसी तरह का झूठ अनुच्छेद 370 को लेकर फैलाया गया. लोग कह रहे थे कि कश्मीर में अस्थिरता आ जाएगी, हिंसा होगी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि जम्मू कश्मीर प्रगति के रास्ते पर आगे बढ़ चुका है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

रक्षाबंधन पर बहनों को मुफ्त यात्रा का तोहफा देगी बिहार, राजस्‍थान और हरियाणा, UP समेत अन्‍य राज्‍य, जल्‍द हो सकता है ऐलान

News Times 7

गुजरात में 6 नगर निकायों में भाजपा ने लहराया परचम, AAP की जबरदस्त एंट्री तो कांग्रेस का सूपड़ा साफ

News Times 7

बिहार में निगरानी के हत्थे चढ़ा घूसखोर दरोगा और उसका सहायक

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़