News Times 7
चुनावटॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़राजनीति

नड्डा का किस्सा, बोले अराजकता फैलाने वाले नौकरी कैसे देंगे?

bihar-ravishankar

  • अराजकता फैलाने वाले नौकरी की बात करते हैं

  • बिजली आई….. गई…. आई… गई.. राजनिती का चाल चरित्र बदला है मोदी की अगुआई में

  • अब होती हैं विकास की बात

 

  • बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के 16जिलो के 71सिटो पर मतदान के आखिरी दिन हर बडे़ नेता पुरे फार्म मे नजर आए! आज आखिरी दिन के प्रचार मे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने औरंगाबाद मे रैली कर बिहार मे अपने सरकार के विकास को गिनाया ,अपने भाषण में जेपी नड्डा ने कहा कि 15 साल पहले जब बिहार में कोई चुनावी सभा करता था तो जाति, धर्म की बात होती थी, समाज को बांटने की बात होती थी, लेकिन चुनाव में आज हमारे उम्मीदवार विकास की बात करते हैं, सरकार की उपलब्धियां बताते हैं, ये बदलाव आया है. जेपी नड्डा ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी आए हैं उन्होंने राजनीति का चाल-चरित्र बदल दिया है.

    बिजली पर नड्डा ने दिया ये बयान

    Advertisement

    बिहार में बिजली सप्लाई का जिक्र करते हुए अपने बचपन का किस्सा सुनाया. नड्डा ने कहा,”मैं यहीं पढ़ा हूं. अगर दो घंटे भी बिजली आ जाती थी तो हम लोग बोलते थे आई…आई…आई…और जब तक आई…आई…बोलते थे तब तक गई…गई…गई…” नड्डा ने कहा कि 24 घंटे बिजली तो हम सोच भी नहीं सकते थे.

    अराजकता वाले नौकरी कैसे देंगे

    तेजस्वी यादव के नौकरी वाले वादे पर जेपी नड्डा ने कहा कि ये जो आज नौकरी की बात कर रहे हैं ये वही लोग हैं जिन्होंने बिहार में अराजकता फैलाई थी. ये तो नौकरी करने वालों को लेने वाले बने हुए थे. नड्डा ने कहा,”अराजकता की हद ये थी कि गोपालगंज का डीएम दलित था, वो गोपालगंज से पटना आ रहा था, गाड़ी से उतारकर उसकी जान ले ली, तब लालू प्रसाद यादव मुख्यमंत्री थे. आज जो पुलिस के डीजी हैं ये एसपी होते थे, शहाबुद्दीन ने इन्हें गोली मारी थी और गोली मारकर भी वो दनदनाता रहता था, लेकिन जब नीतीश जी की सरकार आई तो शहाबुद्दीन जेल गया.”

    Advertisement
  •  नड्डा ने कहा कि आरजेडी को माले ने हाईजैक कर लिया है. ऐसे में विध्वंस का ये रास्ता कहां जाएगा कुछ नहीं पता. कोरोना पर बोलते हुए नड्डा ने कहा कि कोरोना के सामने अमेरिका और यूरोप भी चरमरा गया लेकिन मोदी जी ने समय पर लॉकडाउन लगाकर देश को तैयार किया. जब लॉकडाउन लगा तो एक टेस्टिंग लेब्रोटरी थी, आज हर दिन 15 लाख टेस्टिंग होती है. आज 1600 कोविड अस्पताल हैं और भारत ने तीन लाख वेंटिलेटर बनाए हैं. आज भारत आयात की बजाय पीपीई किट का निर्यात कर रहा है.

Advertisement

Related posts

पुडुचेरी में सियासी संकट के बाद पीएम का दौरा, करेंगे जनसभा

News Times 7

पंजाब में छिड़ी बटाला को अलग जिला बनाने की मांग ,दो बागी मंत्रियों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने का मांगा समय

News Times 7

दो-तीन महीनों में बनेगी महाराष्ट्र में फिर से भाजपा की सरकार-केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे का दावा

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़