News Times 7
टॉप न्यूज़ बड़ी-खबर ब्रे़किंग न्यूज़ रेप

हैवानियत की हद: बिहार के गया और कैमुर मे भी गैंग रेप लड़की को अगवा कर गैंगरेप, इज्जत के डर से घर में फांसी लगाकर की आत्महत्या, बोधगया में भी नाबालिग से दुष्कर्म

हैवानियत की हद: बिहार के गया और कैमुर मे भी गैंग रेप लड़की को अगवा कर गैंगरेप,

इज्जत के डर से घर में फांसी लगाकर की आत्महत्या, बोधगया में भी नाबालिग से दुष्कर्म

  • रातभर की हैवानियत, सुबह में परिजनों ने किया बरामद, मृतका की मां ने दर्ज कराया केस
  • बोधगया में नाबालिग को बांधकर दो बच्चों के पिता ने किया दुष्कर्म
  • यहां के कोंच इलाके में नाबालिग लड़की को रास्ते से अगवा कर चार दरिंदाें ने गैंगरेप किया। लाेकलाज के चलते पीड़ित ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना बीते 29 सितंबर की है। नाबालिग सहेली के घर में बर्थडे पार्टी में गई थी। वहां से लौटते वक्त उसे रास्ते से उठा लिया गया और गैंगरेप किया गया।

    दरिंदों ने रात भर हैवानियत का खेल खेला। इधर, लड़की के घर नहीं लौटने पर परिजन ने रातभर उसकी खोजबीन की, पर कुछ पता नहीं चल सका। घटना के दूसरे दिन सुबह में परिजन को बच्ची के एक घर में होने का पता चला तो वहां पहुंचे और उसे घर लाए।

    परिजन ने पूछताछ की तो गैंगरेप से सहमी नाबालिग ने हैवानियत की दर्दनाक दास्तान बताई। वहीं परिजनों और लोकलाज की चिंता ने उसे इस कदर विचलित कर दिया कि वह अपने घर के एक कमरे में गई और दरवाजा बंद कर दुपट्टे को गले में बांधकर फांसी लगा ली। घर के लोगों को इसकी शंका हुई तो उन्होंने दरवाजा तोड़ा और अंदर आए तो लड़की को फांसी के फंदे से झूलते पाया।

    पुलिस कर रही है छापेमारी, कोई गिरफ्तार नहीं

    Advertisement

    आनन-फानन में उसे फंदे से उतारा गया और इलाज के लिए गया के प्राइवेट क्लीनिक पहुंचे। गया में गंभीर हालत में देख उसे पटना रेफर कर दिया गया। पटना में निजी क्लीनिक में इलाज के दौरान युवती की एक अक्टूबर को मौत हो गई। इसके बाद परिजन शव को लेकर वापस लौटे और कोंच थाना पहुंचे।

    घटना की जानकारी होते ही पुलिस हरकत में आई और दरिंदों की गिरफ्तारी के प्रयास में जुट गई थी। लड़की की मां के बयान पर कोंच थाने में चंदन, राहुल, टुनटुन और एक अज्ञात शख्स पर एफआईआर दर्ज की गई है।

    बोधगया में नाबालिग को बांधकर दो बच्चों के पिता ने किया दुष्कर्म
    मगध विवि थाना अंतर्गत एक गांव में मूक-बधिर 12 साल की नाबालिग को अकेला देख दो बच्चों के पिता ने दुष्कर्म की शर्मसार करने वाली घटना को अंजाम दिया। मासूम को अकेला देख उसे घर से दूर ले जाने के बाद उसके हाथ और पैर बांध दिए। इसके बाद दरिंदगी करता रहा।

    Advertisement

    घटना की भनक गांव में लगी तो लोगों की भीड़ स्थल की ओर दौड़ी। भीड़ देख आरोपी ने भागने का प्रयास किया, किन्तु लोगों ने उसे खदेड़कर पकड़ा। पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया गया। आरोपी सुरेन्द्र मांझी ने गुनाह कबूल लिया।

  • यहां के कोंच इलाके में नाबालिग लड़की को रास्ते से अगवा कर चार दरिंदाें ने गैंगरेप किया। लाेकलाज के चलते पीड़ित ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना बीते 29 सितंबर की है। नाबालिग सहेली के घर में बर्थडे पार्टी में गई थी। वहां से लौटते वक्त उसे रास्ते से उठा लिया गया और गैंगरेप किया गया।

    दरिंदों ने रात भर हैवानियत का खेल खेला। इधर, लड़की के घर नहीं लौटने पर परिजन ने रातभर उसकी खोजबीन की, पर कुछ पता नहीं चल सका। घटना के दूसरे दिन सुबह में परिजन को बच्ची के एक घर में होने का पता चला तो वहां पहुंचे और उसे घर लाए।

    परिजन ने पूछताछ की तो गैंगरेप से सहमी नाबालिग ने हैवानियत की दर्दनाक दास्तान बताई। वहीं परिजनों और लोकलाज की चिंता ने उसे इस कदर विचलित कर दिया कि वह अपने घर के एक कमरे में गई और दरवाजा बंद कर दुपट्टे को गले में बांधकर फांसी लगा ली। घर के लोगों को इसकी शंका हुई तो उन्होंने दरवाजा तोड़ा और अंदर आए तो लड़की को फांसी के फंदे से झूलते पाया।

    पुलिस कर रही है छापेमारी, कोई गिरफ्तार नहीं

    Advertisement

    आनन-फानन में उसे फंदे से उतारा गया और इलाज के लिए गया के प्राइवेट क्लीनिक पहुंचे। गया में गंभीर हालत में देख उसे पटना रेफर कर दिया गया। पटना में निजी क्लीनिक में इलाज के दौरान युवती की एक अक्टूबर को मौत हो गई। इसके बाद परिजन शव को लेकर वापस लौटे और कोंच थाना पहुंचे।

    घटना की जानकारी होते ही पुलिस हरकत में आई और दरिंदों की गिरफ्तारी के प्रयास में जुट गई थी। लड़की की मां के बयान पर कोंच थाने में चंदन, राहुल, टुनटुन और एक अज्ञात शख्स पर एफआईआर दर्ज की गई है।

    बोधगया में नाबालिग को बांधकर दो बच्चों के पिता ने किया दुष्कर्म
    मगध विवि थाना अंतर्गत एक गांव में मूक-बधिर 12 साल की नाबालिग को अकेला देख दो बच्चों के पिता ने दुष्कर्म की शर्मसार करने वाली घटना को अंजाम दिया। मासूम को अकेला देख उसे घर से दूर ले जाने के बाद उसके हाथ और पैर बांध दिए। इसके बाद दरिंदगी करता रहा।

    Advertisement

    घटना की भनक गांव में लगी तो लोगों की भीड़ स्थल की ओर दौड़ी। भीड़ देख आरोपी ने भागने का प्रयास किया, किन्तु लोगों ने उसे खदेड़कर पकड़ा। पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया गया। आरोपी सुरेन्द्र मांझी ने गुनाह कबूल लिया।

कैमुर

उत्तर प्रदेश में रेप की घटनाओं के बाद अब बिहार में भी बलात्कार की हैरान करने वाली घटना सामने आई है। बिहार के कैमूर के चैनपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की छात्रा के साथ गैंग रेप करने के बाद उसकी हत्या करने का प्रयास किया गया। यह घटना गुरुवार की शाम में तब हुई जब छात्रा घास काटने बधार में गई थी। इस घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने रोड जाम कर दिया।

सूचना पर एसडीपीओ सुनीता कुमारी के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत करने के बाद दो आरोपितों को गिरफ्तार किया। जब पुलिस गिरफ्तार आरोपितों को अपने साथ ले जाने लगी तब गुस्साए ग्रामीणों ने बदमाशों को पुलिस की गाड़ी से खींचकर उनकी पिटाई कर दी।

ग्रामीणों के अनुसार, बदमाशों ने छात्रा का पहले हाथ-पैर बांधा। फिर उसे दवा पिलाई। बाद में घटना को अंजाम देने के बाद उसे कीचड़ में ही मुंह के बल मिट्टी में दबा दिया, ताकि घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो जाए। एसपी दिलनवाज अहमद  ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

Advertisement

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

लोक आस्था का पर्व छठ पूजा आज से शुरू

News Times 7

नए कृषि कानून पर बाबा रामदेव की सुझाव ,सरकार दे MSP की गारंटी

News Times 7

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कुर्सी पर खतरा,पार्टी नए चेहरे को सौंप सकती है मुख्यमंत्री की कुर्सी

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़