News Times 7
बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

जया बच्चन ने रविकिशन से कहा- जिस थाली में खाते हैं, उसमें छेद नहीं कर सकते

; कंगना बोलीं- आपका बेटा फंदे पर लटका होता, तब भी यही कहतीं?Hyderabad vet rape-murder: Jaya Bachchan says rapists should be lynched,  another suggests castration

  • जया बच्चन ने कहा- फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाले उसी को गटर कह रहे हैं, सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें
  • रवि किशन बोले- इंडस्ट्री में सभी ड्रग्स नहीं लेते, लेकिन जो लेते हैं, वे दुनिया की सबसे बड़ी फिल्म इंडस्ट्री को खत्म करने की योजना का हिस्सा
  • बॉलीवुड में ड्रग्स विवाद पर अब समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन और भाजपा सांसद रवि किशन व एक्ट्रेस कंगना रनोट आमने सामने आ गए है। मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को राज्यसभा में जया बच्चन ने किसी का भी नाम लिए बिना कहा, ‘फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाले उसी को गटर कह रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें।’ इस पर कंगना ने कहा कि आपका बेटा फंदे पर झूला होता तो भी क्या आप यही बयान देतीं। रवि किशन ने कहा कि जयाजी से ऐसी उम्मीद नहीं थी।

जया बच्चन ने कहा, ‘कुछ लोगों की वजह से आप पूरे इंडस्ट्री की छवि को धूमिल नहीं कर सकते। मुझे शर्म आती है कि कल लोकसभा में हमारे एक सदस्य, जो फिल्म उद्योग से हैं, उन्होंने इसके खिलाफ बोला। यह शर्मनाक है। आप जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद नहीं कर सकते हैं।’ दरअसल, जया का यह बयान सुशांत की मौत के बाद बॉलीवुड के साथ कंगना रनोट का विवाद और भाजपा सांसद रवि किशन के लोकसभा में दिए गए बयान से जोड़ कर देखा जा रहा है।

कंगना ने जया के भाषण के साथ ट्वीट किया
‘जया जी क्या ये बात आप तब कह पातीं, जब मेरी जगह आपकी बेटी श्वेता को पीटा जाता, ड्रग्स दी जाती और युवावस्था में शोषण होता। क्या ये बात आप तब कह पातीं, यदि अभिषेक ने लगातार हैरेसमेंट की बात की होती और आप उन्हें एक दिन लटका पातीं। हमारे साथ सहानुभूति रखिए।’

एम्बेडेड वीडियो

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Related posts

दलित सशक्तिकरण कार्यक्रम के तहत हर दलित परिवार को सरकार देगी 10 लाख रुपये, जानिये विशेष…

News Times 7

गुरु तेग बहादुर की जयंती पर लाल किले से होगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

News Times 7

उत्तर प्रदेश में नियमों को ताक पर रखकर की गई 68500 शिक्षकों की भर्ती, कार्रवाई तय

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़