News Times 7
बड़ी-खबर ब्रे़किंग न्यूज़ संपादकीय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार सातवीं बार देश को संबोधित करेंगे

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को लाल किले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लगातार सातवीं बार देश को संबोधित करेंगे। उनका संबोधन कोरोना वायरस महामारी, चीन के साथ सीमा पर जारी गतिरोध और आत्मनिर्भर भारत के तहत सरकार द्वारा उठाए गए कई कदमों के बीच होगा। सभी की निगाहें इस बात पर होंगी कि प्रधानमंत्री संबोधन में क्या कहेंगे क्योंकि 15 अगस्त को वह बड़ी घोषणाएं करते रहे हैं, अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते रहे हैं और देश के समक्ष बड़ी चुनौतियों को लोगों के ध्यान में लाते रहे हैं।

Independence day PM Narendra Modi Red Fort seventh speech । प्रधानमंत्री लगातार सातवीं बार लाल किले - India TV Hindi

पिछले वर्ष मिले प्रचंड बहुमत के बाद स्वतंत्रता दिवस के भाषण में उन्होंने तीन तलाक के खिलाफ कानून लाने और जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त करने की बात प्रमुखता से रखी थी। उन्होंने जनसंख्या को नियंत्रित करने और पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने की जरूरत पर भी बल दिया था। पीएम मोदी जब 74वें स्वतंत्रता दिवस पर देश को संबोधित करेंगे तो कोविड-19 से निपटने में सरकार के प्रयासों का जिक्र कर सकते हैं।

Advertisement

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का यह दूसरा वर्ष है और सरकार ने अर्थव्यवस्था में व्यापक सुधार की पहल शुरू की है जबकि कोविड-19 से यह बुरी तरह प्रभावित हुई है। अयोध्या में पांच अगस्त को मोदी द्वारा राम मंदिर के ‘भूमि पूजन’ के बाद उनका यह संबोधन होगा। पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच जारी गतिरोध के बीच उनका संबोधन होगा।

दोनों देश संघर्ष वाले बिंदुओं से सैनिकों की वापसी के लिए कूटनीतिक एवं सैन्य वार्ता कर रहे हैं। कई क्षेत्रों में और सुधार के उपायों की घोषणा भी वह कर सकते हैं जबकि सरकार ने कृषि और रक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में कई पहल की है ताकि आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य को हासिल किया जा सके। लाल किले पर आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोहों के लिए चार हजार से अधिक लोगों को आमंत्रित किया गया है जिनमें अधिकारी, राजनयिक और मीडियाकर्मी शामिल हैं।

इससे पहले मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर कई बड़ी घोषणाएं की हैं — जैसे सरकार की महत्वाकांक्षी जन-धन योजना, स्टार्ट अप इंडिया आदि। स्वतंत्रता दिवस से पहले मोदी ने पिछले शनिवार को हफ्ते भर के ‘कचरा मुक्त भारत अभियान’ की शुरुआत की थी और कहा था कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में स्वच्छ भारत मिशन से बड़ा सहयोग मिला।

Advertisement
Advertisement

Related posts

तेज गर्मी और जलवायु परिवर्तन के कारण इन साल पड़ सकता सूखा

News Times 7

इस वजह से नहीं हो पाई रणबीर-आलिया की शादी, एक्टर ने किया खुलासा…

News Times 7

कम कीमत पर खरीदें घर,SBI दे रहा है मौका

Admin

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़