News Times 7
अध्यात्म टॉप न्यूज़ बड़ी-खबर

मोदी सरकार को जगदगुरु परमहंस आचार्य की चेतावनी, ‘भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करो, वरना जल समाधि लूंगा

समय समय पर अन्य धर्मो की नागरिकता पर बौखलाए संत समाज के अंदर अब आंदोलन के स्वर फूटने लगे है, संत समुदाय के अग्रणी व्यक्तित्व जगदगुरु परमहंस आचार्य महाराज ने चेतावनी दी है कि आगामी 2 अक्टूबर तक अगर भारत को ‘हिंदू राष्ट्र’ घोषित नहीं किया गया, तो वह जल समाधि ले लेंगे. यही नहीं, आचार्य ने मुस्लिमों और ईसाइयों की राष्ट्रीयता खत्म किए जाने की मांग भी उठा दी है. उन्होंने सीधे केंद्र सरकार से ये मांगें करते हुए चेतावनी दी है. जबकि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने हैं और अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का काम तेज़ी से चल रहा है, ऐसे में इस तरह का बयान काफी अहम माना जा रहा है.Jagadguru Paramhans Acharya Maharaj jal samadhi Archives - EwokeTV

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश में धर्म और जाति के आधार पर सियासत का माहौल पिछले कुछ दिनों से बना हुआ है. एक तरफ, मुस्लिम वोटों को लेकर राजनीति की खबरें हैं, तो दूसरी तरफ जाति के आधार पर भाजपा, सपा और बसपा के बीच वोट बैंक की सियासत जारी है. ऐसे समय में, ‘हिंदू राष्ट्र’ का मुद्दा जगदगुरु परमहंस आचार्य महाराज ने उठा दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई की मानें तो उन्होंने चेतावनी दी कि यह घोषणा नहीं की गई तो वह सरयू नदी में जल समाधि ले लेंगे.Barabanki Story: Paramhans warn government, demand Hindu Rashtra before  Gandhi Jayanti | Barabanki Story:आचार्य परमहंस ने फिर दी चेतावनी, हिंदू  राष्ट्र घोषित नहीं करने पर इस दिन लेंगे जल ...

आचार्य ने कैसे दिए सवालों के जवाब?
यह चेतावनी देने वाले परमहंस आचार्य से जब पत्रकारों ने सवाल किए तो उन्होंने बताया कि सभी संस्थानों के लोग मिलकर 1 अक्टूबर को सनातन धर्म संसद का आयोजन करेंगे और 2 अक्टूबर को इन भावनाओं को दरकिनार किया गया तो ‘मैं जल समाधि ले लूंगा. हो सकता है कि मुझे श्रद्धांजलि देते हुए मोदी जी भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर दें.’up news, uttar pradesh news, ayodhya saints, hindu saints, hindu nation, उत्तर प्रदेश न्यूज़, यूपी न्यूज़, अयोध्या के मंदिर

Advertisement
परमहंस के बयान से संबंधित ट्वीट एएनआई ने बुधवार को किया.

जब संत परमहंस से पूछा गया कि सभी धर्मों के इस देश में अगर धर्म के नाम पर लोगों की राष्ट्रीयता खत्म की जाएगी, तो लोकतंत्र कैसे बचेगा? इस पर उन्होंने कहा, ‘संविधान है, अदालतें हैं, लोकतंत्र है. जब तक हिंदू बहुमत में रहेंगे, इस देश में सब कुछ रहेगा.’ बता दें कि संत परमहंस वही हैं, जिन्होंने कुछ ही महीने पहले पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री को पत्र लिखकर अपनी ही मौत की खबर देकर सनसनी मचाई थी.

भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित कराने के लिए जल समाधि लेने की घोषणा कर गया यह  संत -

गौरतलब है कि आचार्य के इस बयान से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने भी हिंदू राष्ट्र का मुद्दा और मांग उठाते हुए कहा था कि सभी 130 करोड़ भारतीय हिंदू ही हैं क्योंकि सभी के पूर्वज समान हैं. उन्होंने कहा था, ‘संघ जब हिंदू राष्ट्र की बात कहता है तो उसके मन में किसी सत्ता की लालसा नहीं होती. इस राष्ट्र के स्वत्व का सार हिंदुत्व है. हिंदू कहने से हम अपनी राष्ट्रीय पहचान ही ज़ाहिर करते हैं.’अयोध्या : जगद्गुरु परमहंस आचार्य महाराज की मांग ,कहा - 2 अक्‍टूबर तक भारत  घोषित करो हिंदू राष्‍ट्र वरना कर लेंगे...

Advertisement

विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे 9142802566

निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए बिहार ,UP, MP के हर जिले से रिपोर्टर आमंत्रित हैं!
बायोडाटा वाट्सऐप करें –  9142802566 ,   1Newstimes7@gmail.com
Advertisement

Related posts

छत्तीसगढ़ के सुकमा में कोबरा 206 बटालियन पर नक्सलियों का हमला 9 जवान घायल एक शहीद

News Times 7

अयोध्या में मस्जिद निर्माण में तेजी:1400 वर्गमीटर जमीन पर बनेगी इबादतगाह, इतने ही क्षेत्रफल में थी बाबरी मस्जिद

News Times 7

किसानों के फायदे के लिए मोदी सरकार लाई है बिल -कांग्रेस विरोध कर रही है

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़