News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

कौन है वह शख्स, जिसकी गवाही ने करवा दी संजय सिंह की गिरफ्तारी

नई दिल्ली: दिल्ली शराब घोटाला मामले (Delhi Excise Policy Case) में ईडी ने एक और बड़ा एक्शन लिया है और करीब साढ़े 10 घंटे की पूछताछ के बाद आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) को गिरफ्तार कर लिया है. दिल्ली आबकारी घोटाला केस से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कार्रवाई करते हुए केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी यानी प्रवर्तन निदेशालय ने लंबी पूछताछ के बाद 51 वर्षीय संजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया

दरअसल, ईडी ने संजय सिंह के खिलाफ उस शख्स की गवाही पर एक्शन लिया है, जिसे सीबीआई के मुताबिक, मनीष सिसोदिया का करीबी माना जाता है. जिस शख्स की गवाही की वजह से संजय सिंह की गिरफ्तारी हुई है, उसे खुद ईडी ने पहले गिरफ्तार किया था, बाद में वह सरकारीर गवाह बन गया. बता दें कि कि ईडी ने दिल्ली आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले के संबंध में बुधवार संजय सिंह के परिसरों पर छापे मारे थे.

Advertisement

कैसे फंसे संजय सिंह?
दरअसल, दिल्ली के आबकारी घोटाला केस में ईडी की चार्जशीट में संजय सिंह का नाम है. ईडी की चार्जशीट के मुताबिक, दिनेश अरोड़ा ने अपने जांच एजेंसी के समक्ष दर्ज कराए बयानों में बताया कि उसकी मुलाकात सबसे पहले संजय सिंह से हुई, जिसके बाद एक रेस्तरां ‘unplugged courtyard’ में हो रही पार्टी के दौरान दिनेश अरोड़ा डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के सम्पर्क में आया. संजय सिंह के अनुरोध पर दिनेश अरोड़ा ने कई रेस्तरां-बार मालिको से बात की और 82 लाख रुपए बतौर पार्टी फंड इक्कठा कर मनीष सिसोदिया को सौंपा.

चार्जशीट में क्या-क्या है
चार्जशीट में यह कहा गया है कि बार-रेस्तरां मालिकों से इक्कट्ठे किये गए 82 लाख रुपये उस वक्त आने वाले विधानसभा चुनावों में इस्तेमाल किया जाने थे. सार्थक फ्लेक्स नाम की रिटेल कंपनी के मालिक अमित अरोड़ा ने दिनेश अरोड़ा से उसकी दुकान पीतमपुरा से ओखला शिफ्ट करने में मदद मांगी, जिसके लिए दिनेश अरोड़ा ने मनीष सिसोदिया से बात की और संजय सिंह की मध्यस्थता के बाद एक्साइज विभाग में पेंडिंग इस फाइल को पास करवाकर मामले को सुलझाया. दिनेश अरोड़ा ने अपनी गवाही में बताया कि उसने इस मुद्दे पर मनीष सिसोदिया से 5 से 6 बार बात की और बाद में संजय सिंह के साथ केजरीवाल के आवास पर अरविंद केजरीवाल से एक बार मुलाकात भी की.

कौन है दिनेश अरोड़ा
दरअसल, दिनेश अरोड़ा एक कारोबारी है और वह भी इस मामले में आरोपी है. दिल्ली शराब घोटाले में वह सरकारी गवाह बना है और उसने अपना बयान दर्ज करवाया है. दिनेश अरोड़ा राधा इंडस्ट्रीज के डायरेक्टर हैं और रेस्ट्रोरेंट-बार इंडस्ट्रीज में एक बड़ा नाम है. दिल्ली के हॉजखास इलाके में उन्होंने अपना पहला कैफे खोला था. सीबीआई ने अपनी एफआईआर में दिनेश अरोड़ा को दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का करीबी बताया था.

Advertisement

कब आया मामला
गौरतलब है कि दिल्ली की शराब नीति 2021-22 पर उस वक्त विवाद शुरू हुआ, जब दिल्ली के उपराज्यपाल ने इसे लेकर सीबीआई जांच की मांग की. इस नीति में अनियमितताओं के आरोप लगे. उपराज्यपाल ने इस मामले में आबकारी विभाग के 11 अधिकारियों को भी गिरफ्तार किया. इसी मामले में मनीष सिसोदिया गिरफ्तार हैं और अभी जेल में बंद हैं.

Advertisement

Related posts

पुरानी पेंशन योजना पर सुशील मोदी ने चेताया, जानिए क्या कहां?

News Times 7

मौसम विभाग ने इन राज्‍यों के लिए जारी किया यह अलर्ट, अप्रैल में धूप ही नहीं बारिश के लिए भी रहें तैयार

News Times 7

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा आरा ,बेखौफ अपराधियों ने दिनदहाड़े दूकान में घूस कर व्यवसायी को मारी 3 गोलियां ,मौके पर ही मौत

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़