News Times 7
घोटालाटॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

बिहार में फिर एक पूल चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट, नदी पर बने ब्रिज का 8 पिलर-प्लेट धंसा, जमुई में आवागमन प्रभावित

जमुई. बिहार में नदियों पर बने पुलों की गुणवत्ता को लेकर हमेशा से सवाल उठते रहे हैं. ताजा मामला जमुई जिला से जुड़ा है जहां जिले के सोनो प्रखंड मुख्यालय से दर्जनों गांवों को जोड़ने वाली बरनार नदी पर बना काजवे पुल धंस गया है. पुल धंसने से पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो चुका है. बारिश के बाद पानी के बहाव के कारण पुल धंसने से दर्जनों गांव के लोगों को आवागमन में परेशानी शुरू हो गई है. सोनो और चुरहेत के बीच बरनार नदी पर बना काजवे पुल क्षतिग्रस्त होने के बाद उस पर आवागमन को प्रशासन ने बंद कर दिया है

प्रशासन के द्वारा माइकिंग करा कर लोगों को पुल से आने-जाने पर रोक लगाई जा रही है. बरनार नदी पर बने इस काजवे पुल का निर्माण 2009 में हुआ था. बरनार नदी के दूसरे तरफ रहने वाले दो दर्जन से अधिक गांव के हजारों लोगों के लिए प्रखंड मुख्यालय आने के लिए सीधे सड़क मार्ग पर यह काजवे पुल स्थित था लेकिन अब इसके क्षतिग्रस्त हो जाने से लोगों को आवागमन में काफी परेशानी होगी, क्योंकि दूसरे रास्ते के सहारे प्रखंड मुख्यालय या सोनो बाजार पहुंचने के लिए लोगों को 10 से 15 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय करनी होगी

सबसे ज्यादा नुकसान सोनो जाकर पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं, स्कूली बच्चों और बुजुर्गों को होगा, साथ ही जो लोग जरूरी काम के लिए चंद मिनट में बाजार पहुंच जाते थे उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा. इस पुल के सहारे तेज बारिश के बाद नदी में बहाव तेज होने के कारण पुल का 8 पिलर और प्लेट धंसा है. चुरहट गांव के कामदेव सिंह ने बताया कि बीते महीना का अजमेर पुल वाले के नजदीकी बालू घाट से ठेकेदार ने बेदर्दी नियमों को तोड़कर कई फीट गहराई तक बालू निकला था जिसका असर भी काज में पुल के पिलर पर पड़ा है. पुल के पिलर के नीचे से बालू खिसक जाने और फिर नदी में बारिश के बाद पानी का तेज बहाव के कारण नुकसान पहुंचा है.

Advertisement

सोनो बाजार के ओमप्रकाश बरनवाल ने बताया कि पुल क्षतिग्रस्त हो जाने से व्यापारियों को भी काफी नुकसान पहुंचेगा, सरकार और प्रशासन से मांग होगी कि इसका निदान जल्द से जल्द करें. मौके पर पहुंचे सोनो के अंचलाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि पुल क्षतिग्रस्त होने की सूचना के बाद वह मौके पर पहुंचकर माइकिंग करवा रहे हैं ताकि डैमेज पुल से कोई आ जा न सके और कोई हादसा ना हो. पुल के टूट जाने की सूचना बड़े अधिकारियों को दी गई है.

Advertisement

Related posts

राज्यसभा की 11 सीटों पर चुनाव की घोषणा

News Times 7

छह दिन में 76 पैसे महंगा हुआ पेट्रोल, जानें- कच्चे तेल का क्या है हाल

News Times 7

पर्यावरणविद विशेषज्ञों का मानना ,उत्तराखंड का अस्तित्व हो सकता है समाप्त

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़