News Times 7
टॉप न्यूज़बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़

हाथरस कांड में थोड़ी देर में हाईकोर्ट में सुनवाई

सुनवाई के लिए अदालत पहुंचा है परिवार (PTI)

हाथरस गैंगरेप कांड को अब लगभग एक महीना हो गया है. सोमवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच इस मामले को सुनेगी. इस दौरान पीड़िता का परिवार अदालत में मौजूद रहेगा और अपना बयान दर्ज कराएगा. अदालत की ओर से इस मामले का स्वत: संज्ञान लिया गया था. अदालत में सुनवाई के वक्त यूपी सरकार के अफसर भी मौजूद रहेंगे.

बड़े अपडेट्स:

Advertisement

02.10 PM: हाईकोर्ट में होने वाली सुनवाई में वकील विनोद शाही यूपी सरकार की ओर से पक्ष रखेंगे. पीड़ित परिवार से पांच लोग सीओ और मजिस्ट्रेट की निगरानी में कोर्ट के सामने पेश होंगे और अपना बयान दर्ज कराएंगे.

02.00 PM: पीड़ित परिवार इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच पहुंच गया है. अब से कुछ ही देर में अदालत की सुनवाई शुरू होगी.

01.00 PM: हाथरस कांड पर अब से कुछ देर में इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में सुनवाई होगी. परिवार अदालत के लिए रवाना हो गया है. पीड़ित परिवार की ओर से सीमा कुशवाहा पक्ष रखेंगी. सीमा ने ही दिल्ली की निर्भया की लड़ाई लड़ी थी. अदालत में परिवार की ओर से सुरक्षा, केस ट्रांसफर और मामले की प्राइवेसी का मुद्दा उठाया जाएगा.

Advertisement

11.00 AM: पीड़िता का परिवार लखनऊ पहुंच गया है. यहां अभी वह उत्तराखंड भवन गेस्ट हाउस में रुका है. हाईकोर्ट में दोपहर को सुनवाई होनी है, ऐसे में उससे पहले परिवार अदालत में पहुंचेगा.

परिवार के साथ कड़ी सुरक्षा
सुनवाई में शामिल होने के लिए पीड़ित परिवार हाथरस से कड़ी सुरक्षा के बीच लखनऊ के लिए रवाना हुआ. SDM अंजली गंगवार और CO भी पीड़ित परिवार के साथ रहे.

आपको बता दें कि इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने 1 अक्टूबर को घटना पर स्वत: संज्ञान लिया था. हाई कोर्ट के दखल के बाद योगी सरकार हरकत में आई और परिवार को सुरक्षा का पहरा दिया गया. परिवार की सुरक्षा में करीब 60 पुलिसवालों की तैनाती की गई और घर के आसपास सीसीटीवी कैमरों का घेरा लगाया गया. इसके साथ ही घर आने-जाने वाले हर शख्स पर कड़ी नजर रखी गई.

Advertisement

हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने सुनवाई के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह, डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के अलावा हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार और एसपी रहे विक्रांत वीर को तलब किया है. हाथरस कांड में जिस तरह से पुलिसिया कार्रवाई पर सवाल उठे हैं, उससे साफ है कि हाथरस पुलिस और योगी सरकार को अदालत में कई तरह के कड़े सवालों का सामना करना होगा.

सीबीआई ने दर्ज किया केस

वहीं,  इस पूरे मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने केस दर्ज किया है. साथ ही सीबीआई ने इस मामले में अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी है. सीबीआई ने उत्तर प्रदेश सरकार के अनुरोध पर मामला दर्ज किया है. जांच एजेंसी ने इस सिलसिले में एक टीम गठित की है.

Advertisement

सीबीआई में हाथरस मामले की जांच ग़ाज़ियाबाद सीबीआई यूनिट में तैनात डीएसपी सीमा पाहुजा करेंगी. सीमा पाहुजा एक तेज तर्रार महिला अफसर हैं जो हिमाचल प्रदेश के गुड़िया मामले की जांच भी कर चुकी हैं. उन्हें बेहतरीन जांच के लिए पुलिस पदक से लेकर कई सम्मान मिल चुके हैं.

हाथरस कांड की जांच अभी तक एसआईटी कर रही थी. 14 सितंबर का सच जानने के लिए एसआईटी ने जब जांच शुरू की तो उसके निशाने पर गांव के 40 लोग थे. गांव के इन 40 लोगों से पूछताछ हो चुकी है. ये 40 लोग वे हैं, जो 14 सितंबर को आसपास के खेतों में काम कर रहे थे. इनमें आरोपी और पीड़िता के घर वाले भी शामिल हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

आज जदयू को मिल सकता नया राष्ट्रीय अध्यक्ष? दिल्ली में CM नीतीश करेंगे फैसला

News Times 7

देश में बेकाबू हुई कोरोना वायरस की दूसरी लहर ,सर्वाधिक रिकॉर्ड 1.85 लाख से ज्यादा नए मरीज1026 की गई जान

News Times 7

रामेश्वर चौरसिया समेत 9 बागियों पर कार्रवाई-BJP

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़