News Times 7
बड़ी-खबरब्रे़किंग न्यूज़श्रद्धांजलि

दूसरी पुण्य तिथि पर झारखंड ने अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया, सीएम हेमंत सोरेन ने ऐसे दी श्रद्धांजलि

दूसरी पुण्य तिथि पर झारखंड ने अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया, सीएम हेमंत सोरेन ने ऐसे दी श्रद्धांजलि

बहुमुखी प्रतिभा के धनी अटल बिहारी वाजपेयी देश के पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने थे. वह तीन बार देश के प्रधानमंत्री बने. भारत रत्न से सम्मानित अटल बिहारी वाजपेयी पहली बार मात्र 13 दिन के लिए वर्ष 1996 में पीएम बने. वर्ष 1998 में फिर उन्हें पीएम बनने का मौका मिला. इस बार उनका कार्यकाल 13 महीने का रहा. वर्ष 1999 के चुनाव में जनता ने अटल बिहारी के नेतृत्व में एनडीए को जनादेश दिया और वह तीसरी बार देश के पीएम बने.

16 अगस्त, 2018 की शाम को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने दिल्ली एम्स में ली थी अंतिम सांस.

Advertisement

रांची : अलग झारखंड राज्य का गठन करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्य तिथि पर झारखंड ने उन्हें याद किया. कई दलों के नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है. सूबे के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी दिवंगत प्रधानमंत्री को नमन किया है. उन्होंने रविवार (16 अगस्त, 2020) को ट्वीट किया, ‘देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्य तिथि पर शत-शत नमन

छवि

पंडित जवाहर लाल नेहरू के दौर में राजनीति में प्रवेश करने वाले अटल बिहारी वाजपेयी एक मंझे हुए राजनेता तो थे ही, लोकप्रिय कवि, ओजस्वी वक्ता और समावेशी राजनीति के पर्याय थे. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की झारखंड इकाई ने भी उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी है. भाजपा प्रदेश कार्यालय में अपराह्न 12.30 बजे अपने दिवंगत नेता को उनकी पुण्यतिथि पर याद

Advertisement

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने अटल बिहारी वाजपेयी को नमन किया. उन्होंने स्व वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, ‘भारतीय राजनीति के ध्रुवतारा, भाजपा के पितामह, ओजस्वी वक्ता, महान कवि, हमारे जैसे असंख्य बीजेपी कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत पूर्व पीएम भारत रत्न आदरणीय अटल बिहारी वाजपेयी की द्वितीय पुण्यतिथि पर शत-शत नमन. देश हित में उनके द्वारा दिये गये योगदान को सदैव याद रखा जायेगा.

छवि

जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने भी अटल जी को विनम्र श्रद्धांजलि दी है. अटल बिहारी वाजपेयी ने ही देश के आदिवासियों के कल्याण के लिए अलग से जनजातीय मंत्रालय का गठन किया था. दिवंगत प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि देने के लिए अर्जुन मुंडा ने कई ट्वीट किये. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘श्रद्धेय अटल जी की पुण्यतिथि पर उन्हें कोटिशः नमन.’ इस ट्वीट में अटल जी के फोटो के साथ वाजपेयी जी की कविता भी है. कविता के शब्द हैं : उजियारे में, अंधकार में, कल कहार में, बीच धार में..

Advertisement

 

झारखंड भाजपा की ओर से अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी गयी है, जिसे पूर्व केंद्रीय मंत्री और हजारीबाग के भाजपा सांसद जयंत सिन्हा ने री-ट्वीट किया है. इस ट्वीट में लिखा है, ‘अटल मन, अटल इरादे, अटल विजन, अटल जीवन, भारतीय राजनीति के युगपुरुष, असंख्य भाजपा कार्यकर्ताओं के पथ प्रदर्शक और हमारे प्रेरणास्रोत पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि.’

उल्लेखनीय है कि 16 अगस्त, 2018 को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था. 93 साल के वाजपेयी को जून, 2018 में ही नयी दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था. एम्स ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके पूर्व प्रधानमंत्री के निधन की सूचना दी थी. बुलेटिन में कहा गया था कि गुरुवार (16 अगस्त, 2020) की शाम 05:05 बजे अटल बिहारी वाजपेयी ने अंतिम सांस ली.

Advertisement

अटल जी की कालजयी रचना ‘काल के कपाल पर लिखता मिटाता हूं…’ के साथ आजसू प्रमुख सुदेश महतो ने उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित की है. अटल बिहारी वाजपेयी की कविता की तीन लाइनें लिखने के बाद आजसू सुप्रीमो ने लिखा है, ‘बहुमुखी प्रतिभा के धनी, संवेदनशील राजनेता, ओजस्वी वक्ता, पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्यतिथि पर सादर नमन.’

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

पंजाब में प्रचंड जीत के बाद केजरीवाल का गुजरात कूच ,तिरंगा यात्रा निकाल बढ़ाई भाजपा की बेचैनी

News Times 7

बिना तैयारी के लॉकडाउन लगाना गरीबों पर एक प्रहार था-राहुल गांधी

News Times 7

कार हादसे में बाल बाल बचे पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन

News Times 7

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़